Day: December 7, 2023

Lohia डॉ. राममनोहर लोहिया प्रतिभा संवर्धन एवं उत्प्रेरण कार्यक्रम का आयोजन
Uncategorized

Lohia डॉ. राममनोहर लोहिया प्रतिभा संवर्धन एवं उत्प्रेरण कार्यक्रम का आयोजन

डॉ. राममनोहर लोहिया प्रतिभा संवर्धन एवं उत्प्रेरण कार्यक्रम का आयोजन ----- बिहार सरकार के उप सचिव, पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के पत्र के आलोक में ठाकुर प्रसाद महाविद्यालय, मधेपुरा में बुधवार को डॉ. राममनोहर लोहिया प्रतिभा संवर्धन एवं उत्प्रेरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। इसमें विद्यार्थियों को सरकार की विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी गई और उनका लाभ उठाने हेतु प्रेरित किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए प्रधानाचार्य डॉ. कैलाश प्रसाद यादव ने कहा कि बिहार सरकार द्वारा विभिन्न वर्गों के कल्याणार्थ कई योजनाएं चलाईं जा रही है। इन योजनाओं की समुचित सूचना लाभार्थियों तक पहुंचाने की जरूरत है। उन्होंने बताया कि बीएनएमयू में भी बिहार सरकार की कई योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। सभी विद्यार्थी इसका लाभ उठाएं। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि उपकुलकचिव (स्थापना) डॉ. सुधांश...
Ambedkar डॉ. अंबेडकर परिनिर्वाण दिवस पर कार्यक्रम आयोजित।
Uncategorized

Ambedkar डॉ. अंबेडकर परिनिर्वाण दिवस पर कार्यक्रम आयोजित।

डॉ. अंबेडकर परिनिर्वाण दिवस पर कार्यक्रम आयोजित --------- डाॅ. भीमराव अंबेडकर के परिनिर्वाण दिवस पर ठाकुर प्रसाद महाविद्यालय, मधेपुरा में राष्ट्रीय सेवा योजना एवं सेहत केंद्र के तत्वावधान में भारत के नव-निर्माण में में डॉ. अंबेडकर का योगदान विषयक परिचर्चा का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए प्रधानाचार्य डॉ. कैलाश प्रसाद यादव ने कहा कि डॉ. अंबेडकर ने भारत के नव-निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। उन्होंने संविधान के माध्यम से भारत के सभी लोगों के लिए स्वतंत्रता, समानता, बंधुता की गारंटी दी है। इस अवसर पर मुख्य अतिथि दर्शनशास्त्र विभागाध्यक्ष डॉ. सुधांशु शेखर ने कहा कि डाॅ. अंबेडकर केवल दलितों के नेता नहीं थे, बल्कि वे संपूर्ण मानवता के उन्नायक थे। उनके विचारों पर चलकर ही संपूर्ण राष्ट्र एवं पूरी दुनिया में सामाजिक न्याय एवं शांति आ सकती है। विशिष्ट अतिथि अनुम...
Ambedkar अपने-अपने आम्बेडकर /प्रेमकुमार मणि
SRIJAN.AALEKH

Ambedkar अपने-अपने आम्बेडकर /प्रेमकुमार मणि

अपने-अपने आम्बेडकर प्रेमकुमार मणि आज बाबासाहब आम्बेडकर का परिनिर्वाण दिवस है। 6 दिसम्बर 1956 को उनका निधन हुआ था। कुछ ही हप्ते पूर्व 14 अक्टूबर 1956 को उन्होंने बौद्ध धर्म की दीक्षा ली थी। बौद्ध भिक्षुओं का दिवंगत होना बौद्धों की सभ्यता में परिनिर्वाण कहा जाता है। अतएव 6 दिसम्बर बाबासाहब का परिनिर्वाण दिवस है। आम्बेडकर ( 1891 - 1956 ) का जीवन संघर्षपूर्ण रहा। अछूत कहे जानेवाले महार परिवार में उनका जन्म हुआ था। अछूतों की स्थिति का आकलन कोई भी संवेदनशील कर सकता है। महाराष्ट्र उनका प्रान्त था। जहाँ पेशवा -मराठाओं की बहादुरी की गाथा इतिहास के पन्नों पर तैर रही होती हैं। यह पेशवा ही थे जिन्होंने अपने राजकाज और समाज में वर्णाश्रमी मनुवादी व्यवस्था को पुणे और लगभग पूरे महाराष्ट्र में प्रभावी बना दिया था। मनुवादी समाज व्यवस्था का केन्द्रक यह मान्यता है कि जो सबसे अधिक शारीरिक और चुनौतीपूर्ण कार...
Philosophy दर्शन परिषद्, बिहार का 45वां अधिवेशन 21 दिसंबर, 2023 से
Uncategorized

Philosophy दर्शन परिषद्, बिहार का 45वां अधिवेशन 21 दिसंबर, 2023 से

दर्शन परिषद्, बिहार का 45वां अधिवेशन 21 दिसंबर से दर्शन परिषद्, बिहार का 45वां अधिवेशन 21-23 दिसंबर, 2023 को रामेश्वर कॉलेज, मुजफ्फरपुर में आयोजित होगा। इसमें देशभर के जानेमाने दार्शनिक, शिक्षक, शोधार्थी एवं विद्यार्थी शामिल होंगे। यह जानकारी बीएनएमयू के उपकुलसचिव (स्थापना) सह परिषद् के संयुक्त सचिव डॉ. सुधांशु शेखर ने दी। मधेपुरा में हुआ था 42वां अधिवेशन उन्होंने बताया कि परिषद् की सन् 1949 में सुप्रसिद्ध दार्शनिक प्रो. डी. एम. दत्त ने समाज में दार्शनिक विचारों के प्रचार-प्रसार के लिए दर्शन परिषद्, बिहार का गठन किया था। तब से लगातार विभिन्न विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों में इस संगठन के अधिवेशन आयोजित हो रहे हैं। उन्होंने बताया कि परिषद् का 42 वां अधिवेशन 5-7 मार्च, 2021 को भूपेन्द्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय, मधेपुरा में संपन्न हुआ था। तदुपरांत 43वां अधिवेशन 12-13 मार्च, 2022...