BNMU एम. आई. रहमान के जन्मदिन पर माई बर्थ माई अर्थ मिशन के तहत पौधारोपण एवं परिचर्चा

0
254

विश्वविद्यालय के निदेशक (शैक्षणिक) एवं स्नातकोत्तर मनोविज्ञान विभाग के वरिष्ठ प्रोफेसर डॉ. एम. आई. रहमान ने हर साल की भांति इस वर्ष भी अपना जन्म दिवस जो कि 9 मार्च को था धूम धाम से मनाया। कार्यक्रम का आयोजन विश्विद्यालय सेवा शिक्षक संघ द्वारा संचालित मिशन “माई बर्थ मई अर्थ” के तहत किया गया। इस अवसर पर अकादमी शाखा के सामने पचास से अधिक अशोका, पाम, एक्समस आदि के पौधे लगाए गए।
साथ ही “पर्यावरण और हम” विषयक एक परिचर्चा भी आयोजित की गई।

मुख्य अतिथि कुलपति प्रोफेसर डॉ. राम किशोर प्रसाद रमण ने कार्यक्रम की भूरी-भूरी प्रशंशा की और डाॅ. रहमान को जन्मदिन की शुभकामनाएं और आशीर्वाद दिये। उन्होंने बताया कि हमें अपने पर्यावरण को अपने जीवन से जोड़ कर देखने की आवश्यकता है। वृक्ष के बगैर हम अपने जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकते हैं। हमें जल, जीवन और हरियाली के लिए ठोस कदम उठाने की आवश्यकता हैं। उन्होंने कहा कि हमारा कैंपस ग्रीन कैंपस के रुप में जाना जाए और इस मिशन को जन जन तक फैलाया जाए।

विशिष्ट अतिथि विश्वविद्यालय प्रति कुलपति प्रोफेसर डॉ. आभा सिंह ने कहा कि साफ सफाई हमारा धर्म है। स्वच्छ वातावरण और स्वस्थ पर्यावरण की आवश्यकता सभी को है। उन्होंने कहा कि हम शिक्षित हैं, तो हमारी सोच भी सार्थक होनी चाहिए। उन्होंने विश्वविद्यालय में सूखे पत्तों को वृक्षों के नीचे जलाने पर रोक लगाने और उन पत्तों से कंपोस्ट बनाने की जरूरत बताई। साथ ही इस बावत उनके प्रस्ताव पर सिंडिकेट में लिए गए निर्णय के अविलंब अनुपालन पर जोर दिया।ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय, दरभंगा के डाॅ. अफाक हाशमी एवं डॉ. जी. एम. अंसारी ने कहा कि माई बर्थ भाई अर्थ मिशन अनुकरणीय है। वे अपने विश्वविद्यालय में भी इस मिशन की शुरूआत करने की पहल करेंगे।

परिचर्चा का सफल संचालन बी एन एम यू सेवा शिक्षक संघ के महा सचिव प्रोफेसर डॉ. नरेश कुमार ने किया। उन्होंने पर्यावरण एवं जीवन पर विस्तृत प्रकाश डाला और माई बर्थ माई अर्थ के उद्देश्य को लोगों के सामने रखा। उन्होंने इस लोगो को आईपीआर से पंजीकृत होने की सूचना सदन को दी तो तालियों लोगों ने अभिनंदन किया। इस लोगो का भारत सरकार से ट्रेड मार्क होना बीएनएमयू के इतिहास में एक बड़ी उपलब्धि के रुप में माना गया। स्वच्छ वातावरण के लिए हरियाली आवश्यक है और इस मिशन विश्वविद्यालय के सभी कैंपस को स्वच्छ और हरा भरा बनाना है।

धन्यवाद ज्ञापन करते हुए डॉ. एम. आई. रहमान ने कहा कि हमारी सांसें स्वच्छ वातावरण और पर्यावरण की मोहताज हैं। यदि हम वृक्ष नहीं लगाएंगे तो हम समय से पहले ही समाप्त हो जायेंगे।

उन्होंने कुलपति एवं प्रति कुलपति को पवित्र कुरान पाक भेंट किया और बताया कि यह ग्रंथ पर्यावरण संरक्षण का उपदेश देता है।

इस अवसर पर कुलानुशासक डाॅ. बी. एन. विवेका, सीसीडीसी डॉ. इम्तियाज अंजुम, खेल सचिव डॉ. अबुल फजल, पीआरओ डाॅ. सुधांशु शेखर, मनोविज्ञान विभाग के शिक्षक डाॅ. शंकर कुमार मिश्र सहित विश्वविद्यालय के अन्य शिक्षक, पदाधिकारी, शिक्षेत्तार कर्मचारी और बड़ी संख्या में विद्यार्थी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here