BNMU *नया भारत बनाएँ युवा : डाॅ. मनोज*

*नया भारत बनाएँ युवा : डाॅ. मनोज*

हिन्दुस्तान में दुनिया में सर्वाधिक युवा हैं। हमारा दुनिया का सबसे युवा देश है। हम युवाओं की शक्ति को जगाकर दुनिया में अग्रणी बन सकते हैं।

यह बात महात्मा गाँधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा (महाराष्ट्र) के पूर्व कुलपति प्रोफेसर डाॅ. मनोज कुमार ने कही।

वे गुरूवार को ठाकुर प्रसाद महाविद्यालय, मधेपुरा में न्यू इंडिया@75 कैंपेन हेतु जिला स्तर पर गठित समूह की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक न्यू इंडिया कैंपैन में अधिकाधिक विद्यार्थियों को पंजीकृत कराने के उद्देश्य से किया गया। इसमें तीसरे चरण की सफलता हेतु विस्तृत रूपरेखा तय की गई और विभिन्न महाविद्यालयों में ऑफलाइन-ऑनलाइन बैठक आयोजित करने का निर्णय लिया गया।

उन्होंने कहा कि भारत का इतिहास युवा नायकों से भरा हुआ है। नचिकेता, प्रह्लाद, आरूणी, विवेकानंद, भरत सिंह जैसे अनेक नायक हमारे बीच हैं।

उन्होंने कहा कि हम युवाओं की कुर्बानियों के कारण ही हमारा देश 15 अगस्त, 1947 को आजाद हुआ।हम आज आज़ादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं।

उन्होंने कहा कि युवाओं के कंधों पर ही देश के विकास एवं समाज- परिवर्तन की जिम्मेदारी है। जब-जब समाज में परिवर्तन की जुगुप्सा पैदा होती है, तब सबसे पहले यवाओं पर ध्यान जाता है। युवाओं से यह अपेक्षा है न्यू इंडिया कैंपेन में बढ़चढ़कर भाग लें और परिवर्तन का वाहक बनें।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि बिहार राज्य एड्स नियंत्रण समिति के सहायक निदेशक आलोक कुमार सिंह ने कहा कि न्यू इंडिया कैंपेन में बिहार की भागीदारी सर्वाधिक है। इस सफलता का श्रेय बिहार के युवाओं को जाता है।

विशिष्ट अतिथि एनएसएस समन्वयक डाॅ. अभय कुमार ने कहा कि बिहार राज्य एड्स नियंत्रण समिति, पटना के सहयोग से विश्वविद्यालय में लगातार कार्यक्रमों का आयोजन हो रहा है। न्यू इंडिया कैंपेन में भी हमारा प्रदर्शन सराहनीय है।

मुख्य वक्ता परीक्षा नियंत्रक डाॅ. मिथिलेश कुमार अरिमर्दन ने कहा कि युवा समाज एवं राष्ट्र के बारे में सोचें। भारत के नवनिर्माण में महती भूमिका निभाएँ।

इस अवसर पर सम्मानित अतिथि सिंडिकेट सदस्य डॉ. जवाहर पासवान ने कहा कि युवाओं की उर्जा को सकारात्मक दिशा देने और उन्हें सामाजिक सरोकारों से जोड़ने की जरूरत है।

*तीन चरणों में होगी प्रतियोगिता*
विभिन्न तिथि जारी*
जिला नोडल पदाधिकारी डाॅ. सुधांशु शेखर ने बताया कि न्यू इंडिया के तीसरे चरण में एड्स जागरूकता से संबंधित कई प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा।
इस चरण में 1-7 अक्टूबर तक मुख्य रूप से भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा।

कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रधानाचार्य डाॅ. के. पी. यादव ने की। संचालन शोधार्थी सारंग तनय और धन्यवाद ज्ञापन के. पी. काॅलेज, मुरलीगंज के कार्यक्रम पदाधिकारी डाॅ. अमरेंद्र कुमार ने किया।

इस अवसर पर वर्धा के धनंजय भट्टाचार्य, शोधार्थी द्वय माधव कुमार एवं सौरभ कुमार चौहान, अजय भारद्वाज, अलका कुमारी, डेविड यादव, पिंटू कुमार, आर्यन राज आदि उपस्थित थे।

*मिलेगा कई पुरस्कार*
मालूम हो कि इस कैंपेन में तीन चरणों में आयोजित प्रतियोगिताओं हेतु प्रमाणपत्र और कई पुरस्कार निर्धारित हैं। अलग-अलग चरण में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वालों को पुरस्कार दिया जाएगा। इस तरह एक महाविद्यालय के नौ प्रतिभागियों को पुरस्कार दिया जाएगा। इस प्रकार कुल एक पचास विद्यालय एवं महाविद्यालय के एक हजार तीन सौ पचास प्रतिभागियों को पुरस्कार दिए जाएँगे। प्रतिभागी विद्यार्थियों के अलावा उत्कृष्ट कार्य करने वाले नोडल पदाधिकारियों, महाविद्यालयों एवं विश्वविद्यालयों को
भी पुरस्कृत करने की योजना है।

bnmusamvadhttps://bnmusamvad.com
B. N. Mandal University, Madhepura, Bihar, India

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

20,692FansLike
3,049FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles