BNMU SAMVAD

Bihar सुशील कुमार मोदी के निधन पर शोक

सुशील कुमार मोदी के निधन पर शोक
——————

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् के नेताओं ने बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी (05 जनवरी, 1952 से 13 मई, 2024) के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है।

प्रदेश कार्यसमिति सदस्य प्रो. ललन प्रसाद अद्री ने बताया कि सुशील कुमार मोदी का नाम भारतीय राजनीति के इतिहास में अविस्मरणीय रहेगा। वे उन गिने-चुने लोगों में थे, जिन्हें लोकसभा, राज्यसभा, विधानसभा एवं विधान परिषद् चारों सदनों का प्रतिनिधित्व करने का सुअवसर प्राप्त हुआ।

*जेपी के सच्चे सिपाही थे सुशील*
नगर अध्यक्ष डॉ. सुधांशु शेखर ने कहा कि सुशील कुमार मोदी लोकनायक जयप्रकाश नारायण (जे. पी.) के सच्चे सिपाही थे। वे जीवनभर जेपी के संपूर्ण क्रांति आंदोलन के मूल उद्देश्यों की प्राप्ति के लिए संघर्षरत रहे। उन्होंने अपने सुदीर्घ राजनीतिक जीवन में कभी भी आदर्शों से समझौता नहीं किया।
*काफी सराहनीय कार्य किया*
सीनेटर सह प्रदेश कार्यसमिति सदस्य डॉ. रंजन यादव ने कहा कि सुशील कुमार मोदी ने बिहार में विपक्ष के नेता और उप मुख्‍यमंत्री-सह वित्त मंत्री के रूप में काफी उल्लेखनीय कार्य किया। वे देश भर के वित्त मंत्रियों की प्राधिकृत समिति के अध्‍यक्ष भी रहे। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के राष्‍ट्रीय मंत्री, राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष एवं प्रदेश अध्‍यक्ष की भी जिम्मेदारी निभाई।

*योगदान रहेगा हमेशा याद*
प्रदेश मंत्री अभिषेक यादव ने कहा कि सुशील कुमार मोदी परिषद् के परिषद् के प्रदेश मंत्री एवं प्रदेश संगठन मंत्री, उत्तर प्रदेश-बिहार के क्षेत्रीय संगठन मंत्री एवं राष्ट्रीय महामंत्री भी रहे थे। उनके योगदान को हमेशा याद रखा जाएगा।

शोक व्यक्त करने वालों में नगर उपाध्यक्ष डॉ. उपेन्द्र प्रसाद यादव, डॉ. शंकर कुमार मिश्र एवं डॉ. प्रफुल्ल कुमार, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य आमोद आनंद, नीतीश सिंह यादव एवं समीक्षा यदुवंशी, नगर मंत्री अंकित आनंद, नगर संगठन मंत्री शंकर कुमार, जिला प्रमुख दिलीप कुमार दिल, जिला संयोजक नवनीत सम्राट, विभाग संयोजक सौरभ यादव आदि के नाम शामिल हैं।