BNMU SAMVAD

Ambedkar *भारतीयता के प्रतीक हैं डॉ. अंबेडकर : प्रो. ललन*

*भारतीयता के प्रतीक हैं डॉ. अंबेडकर : प्रो. ललन*

—————–

भारतरत्न डाॅ. अंबेडकर एक प्रखर राष्ट्रभक्त थे। उनका संपूर्ण जीवन-दर्शन भारत एवं भारतीयता के लिए समर्पित था।

 

यह बात बीएनएमयू , मधेपुरा के विकास पदाधिकारी सह परिषद् के विभाग प्रमुख डॉ. ललन प्रसाद अद्री ने कही। वे रविवार को डॉ. अंबेडकर जयंती के अवसर आयोजित पुष्पांजलि सभा सह परिचर्चा की अध्यक्षता कर रहे थे। परिचर्चा का आयोजन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद्, मधेपुरा नगर इकाई के तत्वावधान में किया गया था।

 

उन्होंने कहा कि डाॅ. अंबेडकर ने विपरीत परिस्थितियों में भी उच्च शिक्षा ग्रहण किया और दुनिया में अपने ज्ञान का लोहा मनवाया। उन्होंने यह साबित किया कि यदि हमारे मन में शिक्षा प्राप्त करने का सच्चा संकल्प हो, तो गरीबी बाधा नहीं हो सकती है।

 

*संपूर्ण मानवता के भाग्य-विधाता थे डॉ. अंबेडकर*

इस अवसर पर नगर अध्यक्ष डॉ. सुधांशु शेखर ने कहा कि डाॅ. अंबेडकर केवल दलित वर्ग के नेता नहीं थे, बल्कि वे संपूर्ण समाज, राष्ट्र एवं पूरी मानवता के भाग्य-विधाता थे। वे सभी मनुष्यों को एक मानते थे और सबको सामाजिक, आर्थिक एवं राजनैतिक न्याय दिलाने के पक्षधर थे।

 

उन्होंने कहा कि डॉ. अंबेडकर के विचारों में माननवीय गरिमा की रक्षा एवं सामाजिक समरसता की स्थापना का आदर्श निहित है। इनके विचारों को सही संदर्भों में समझने और इनके कारवां को आगे बढ़ाने की जरूरत है।

 

*प्रोरणास्रोत हैं डॉ. अंबेडकर*

उत्तर बिहार प्रदेश मंत्री अभिषेक यादव ने कहा कि डॉ. अंबेडकर हमारे लिए प्रेरणास्रोत हैं और उनका संदेश ‘शिक्षित बनो, संगठित रहो और संघर्ष करो’ हमारा आदर्श है। यह इस आदर्श को केंद्र में रखकर डॉ. अंबेडकर के विचारों को जन-जन तक पहुंचाने हेतु प्रतिबद्ध हैं।

 

*ज्ञान के प्रतीक हैं डॉ. अंबेडकर*

बीएनएमयू के सीनेट सदस्य सह परिषद् के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य डॉ. रंजन यादव ने कहा कि डॉ. अंबेडकर दुनिया में ज्ञान के प्रतीक (सिम्बल ऑफ नॉलेज) माने जाते हैं। उन्होंने अर्थशास्त्र, समाजशास्त्र, दर्शनशास्त्र, धर्मशास्त्र, मानवशास्त्र राजनीति विज्ञान आदि विभिन्न विषयों का गहन अध्ययन किया था।

 

इसके पूर्व सबों ने डाॅ. अंबेडकर के चित्र पर माल्यार्पण एवं पुष्पांजलि की। कार्यक्रम का संचालन विभाग संयोजक सौरभ यादव ने किया। धन्यवाद ज्ञापन जिला प्रमुख दिलीप कुमार दिल ने की।

 

इस अवसर पर प्रदेश कार्यसमिति सदस्य अमोद आनंद, नीतीश सिंह यादव, विद्यार्थी विस्तारक शंकर कुमार, बालकृष्ण कुमार, अंशु राज, रविरंजन कुमार, रोशन यदुवंशी, विवेक कुमार, ललित कुमार, ज्ञानप्रकाश कुमार, राहुल कुमार, नितीश कुमार, सौरभ कुमार चौहान आदि उपस्थित थे।