BNMU दीक्षांत समारोह : तैयारियां अंतिम चरण में

*दीक्षांत समारोह : तैयारियां अंतिम चरण में आमंत्रण पत्र वितरण जारी*

आगामी 3 अगस्त को निर्धारित भूपेन्द्र नारायण मण्डल विश्वविद्यालय, मधेपुरा के का चतुर्थ दीक्षांत समारोह की तैयारियां अंतिम चरण में हैं। कुलपति डॉ. आर. के. पी. रमण स्वयं सभी कार्यों की निगरानी कर रहे हैं और उनके निदेशानुसार रविवार को भी विश्वविद्यालय में दीक्षांत समारोह से संबंधित कार्यों का संपादन किया गया।

जनसंपर्क पदाधिकारी डॉ. सुधांशु शेखर ने बताया कि
रविवार को कुल 264 विद्यार्थियों को अंगवस्त्रम्, मालवीय पगड़ी, इंट्री पास, गाड़ी पास एवं लंच कुपन बांटा गया। वितरण कार्य में घनश्याम राय, कमल किशोर ठाकुर, डॉ. संजीव कुमार, बिमल किशोर बिमल, अवनीत कुमार, वैभव कुमार, रामनरेश भारती, उपेंद्र कुमार, पवन कुमार, राजेश कुमार, रौशन कुमार, दिलवर, शोएब अख्तर, चंदन, रतन कुमार आदि ने सहयोग किया।

उन्होंने बताया कि सोमवार को भी सामग्रियां वितरित की जाएंगी। मंगलवार को पूरे कार्यक्रम के तैयारियों की अंतिम रूप से समीक्षा की जाएगी।

*राज्यपाल मुख्य अतिथि- सह-अध्यक्ष होंगे*
उन्होंने बताया कि दीक्षांत समारोह में महामहिम राज्यपाल सह कुलाधिपति फागू चौहान मुख्य अतिथि- सह-अध्यक्ष होंगे। बिहार सरकार के ऊर्जा और योजना एवं विकास विभाग के मंत्री
बिजेन्द्र प्रसाद यादव तथा शिक्षा और संसदीय कार्य विभाग के मंत्री विजय कुमार चौधरी समारोह के विशिष्ट अतिथि होंगे। इस अवसर पर इह क्षेत्र के अन्य मंत्रियों, सांसदों, विधान सभा सदस्यों, विधान परिषद् सदस्यों, पूर्व कुलपतियों आदि को भी गरिमामयी उपस्थिति रहेगी।

*शोभायात्रा में शामिल होंगे राज्यपाल*
उन्होंने बताया गया कि विद्वत शोभा यात्रा दीक्षांत समारोह का मुख्य आकर्षण है। इसमें राज्यपाल सह कुलाधिपति सहित अन्य गणमान्य अतिथि विशेष दीक्षांत परिधान में शामिल होंगे। इसमें कुलसचिव, संकायाध्यक्ष, परीक्षा नियंत्रक, प्रति कुलपति एवं कुलपति राज्यपाल सह कुलाधिपति की अगुवानी करेंगे। अभिषद् एवं विद्वत परिषद् के सभी सदस्य विद्वत शोभा यात्रा में शामिल होंगे। शोभा यात्रा में शामिल सभी अतिथियों एवं सभी प्रतिभागियों को विश्वविद्यालय द्वारा पीला मालविया पगड़ी, लाल बॉडर वाला विश्वविद्यालय के मोनोग्राम अंकित पीला अंगवस्त्रम् मंगलवार को उपलब्ध कराया जाएगा।

*खादी वस्त्र को प्राथमिकता*
दीक्षांत समारोह के दौरान खादी वस्त्र को प्राथमिकता दी जाएगी। छात्रों को खादी कपड़े में सफेद (उजला) कुर्ता एवं पजामा या सफेद धोती एवं उजला कुर्ता स्वयं बनाना है। छात्राओं के लिए खादी सलवार (उजला) लेमन येलो कुर्ता या खादी की साड़ी लाल बॉडर के साथ, लाल ब्लाज स्वयं बनवाना है।

*निर्देश जारी*
उन्होंने बताया कि समारोह में जारी किए गए निदेश का सख्ती से पालन करना आवश्यक होगा। निदेश में बताया गया है कि पत्र प्रवेश पत्र पहचान पत्र साथ रखें और मांगे जाने पर दिखाएं। पू. 11:00 बजे तक पंडाल में अपना निर्धारित स्थान ग्रहण कर लें। अपने साथ किसी अन्य व्यक्ति या बच्चे को ना लाएं। अपने साथ कैमरा मोबाइल हैंडसेट, ब्लूटूथ उपकरण और किसी भी प्रकार का अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरण पॉलिथीन बैग या ब्रीफकेस एवं हैंडबैग तथा किसी भी प्रकार का हथियार आदि ना लाएं।

उन्होंने बताया कि निदेश में यह भी कहा गया है कि विद्वत शोभायात्रा के शुरू होने से लेकर शोभायात्रा में शामिल महामहिम एवं सभी सदस्यों के आसन ग्रहण करने तक अपने स्थान पर सावधान मुद्रा में खड़े रहें। महामहिम के सभास्थल से प्रस्थान के समय भी अपने स्थान पर खड़े हो जाएं और शोभा यात्रा की समाप्ति तक खड़े रहे। राष्ट्रगान एवं कुलगीत का सम्मान करते हुए गायन के वक्त खड़े हो जाएं। विद्वत कार्यवाही के दौरान शांति बनाए रखें और समारोह के सफल आयोजन में सहयोग करें।

*सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम*
जिला प्रशासन की ओर महामहिम की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं और जिला पदाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक स्वयं पूरी व्यवस्था की निगरानी कर रहे हैं। कार्यक्रम स्थल पर अनाधिकृत एवं अवांछित व्यक्तियों का प्रवेश पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। अग्निशमन की पुख्ता व्यवस्था की जा रही है। इस संबंध में जिला अग्निशमन पदाधिकारी भगवान पासवान, अनिमेष कुमार, योगेन्द्र कुमार सिंह, गोविंदा कुमार ने पंडाल का निरीक्षण किया।

इस अवसर पर कुलानुशासक डॉ. बी. एन. विवेका, कुलसचिव डॉ. मिहिर कुमार ठाकुर, परीक्षा नियंत्रक आर. पी. राजेश, निदेशक अकादमिक डॉ. एम. आई. रहमान, परिसंपदा पदाधिकारी डॉ. गजेन्द्र कुमार, विद्वत परिषद् की सदस्या प्रज्ञा प्रसाद, क्रीड़ा एवं सांस्कृतिक परिषद् के उप सचिव डॉ. शंकर कुमार मिश्र, मधेपुरा कालेज, मधेपुरा के प्रधानाचार्य डॉ. अशोक कुमार, यूभीके कालेज, कड़ामा के प्रधानाचार्य डॉ. माधवेन्द्र झा, पीआरओ डॉ. सुधांशु शेखर, कुलपति के निजी सहायक शंभु नारायण यादव आदि उपस्थित थे।

*समारोह में कुल 574 विद्यार्थियों ने भाग लिया है*

जनसंपर्क पदाधिकारी डॉ. सुधांशु शेखर ने परीक्षा नियंत्रक डॉ. आर. पी. राजेश के हवाले से बताया बताया कि चतुर्थ दीक्षांत समारोह में कुल 574 विद्यार्थियों ने भाग लिया है, जिनमें 289 छात्राएं एवं 282 छात्र हैं। इस अवसर पर 47 विद्यार्थियों को स्वर्ण पदक प्रदान किया जाएगा, जिनमें 26 छात्राएं हैं, जबकि छात्रों की संख्या मात्र 21 है। कुल 97 शोधार्थियों को पीएचडी की उपाधि मिलेगी, इनमें 44 छात्राएं और 53 छात्र हैं।

उन्होंने बताया कि वर्ष 2021 के लिए एकमात्र स्वर्ण पदक शिक्षा संकायान्तर्गत एमएड के डेजी कुमारी (छात्रा) को मिलेगा।

वर्ष 2020 के लिए एमएड के यशवंत कुमार के अलावा एमएलआईएस के राहुल कुमार, एमडी में पूजा मिश्रा एवं एमएस में आदित्य कुमार के नाम शामिल हैं।

उन्होंने बताया कि वर्ष 2019 के लिए शिक्षा संकायान्तर्गत एमएड के प्रदीप कुमार मेहता और वाणिज्य संकायान्तर्गत वाणिज्य में प्रभु कुमार भी शामिल हैं।

इस वर्ष विज्ञान संकायान्तर्गत भौतिकी में शिवम् कृष्णा, रसायनशास्त्र में नेहा कुमारी, वनस्पति विज्ञान में अविनाश कुमार, जंतु विज्ञान में अंशु आनंद एवं गणित में श्रुति अग्रवाल को स्वर्ण पदक मिलेगा। सामाजिक विज्ञान संकायान्तर्गत भूगोल में अनीशा, गृह विज्ञान में कुमारी रेणुका रंजना, मनोविज्ञान में निशा कुमारी, समाजशास्त्र में प्रज्ञा गौतम, राजनीति विज्ञान में जयदीप मोनु, इतिहास में सुमित कुमार एवं अर्थशास्त्र में जूली कुमारी के नाम भी स्वर्ण पदक विजेताओं में शामिल हैं।

मानविकी संकायान्तर्गत दर्शनशास्त्र में अर्चना कुमारी, हिंदी में राधा कुमारी, अंग्रेजी में श्वेता कुमारी, उर्दू में सबा परवीन, मैथिली में संजय कुमार एवं संस्कृत में अर्चिता रानी को स्वर्ण पदक मिलेगा।

वर्ष 2018 के लिए वाणिज्य संकायान्तर्गत वाणिज्य में आर्यमन स्मित परयातीयार को स्वर्ण पदक मिलेगा। इसमें विज्ञान संकायान्तर्गत भौतिकी में मणिकांत कुमार, रसायनशास्त्र में श्यामा अहद, वनस्पति विज्ञान में सपना कुमारी, जंतु विज्ञान में शिखा रानी, गणित में बिनित कुमार को स्वर्ण पदक मिलेगा। इस वर्ष सामाजिक विज्ञान संकायान्तर्गत भूगोल में मो. शाहनवाज, गृह विज्ञान में नेहा कुमारी, मनोविज्ञान में कावेरी कुमारी, समाजशास्त्र में रूचिका कुमारी, राजनीति विज्ञान में मुकेश कुमार, इतिहास में अवधेश कुमार अमन, अर्थशास्त्र में अनामिका कुमारी के नाम स्वर्ण पदक प्राप्तकर्ताओं में शामिल हैं।

स्वर्ण पदक की सूची में मानविकी संकायान्तर्गत दर्शनशास्त्र में जाह्नवी, हिंदी में सुजाता, अंग्रेजी में मीनाक्षी आनंद, उर्दू में मो. इम्तियाज आलम, मैथिली में मुकेश कुमार राय, संस्कृत में प्रीति कुमारी, बंगला में आलमगीर आलम के नाम भी शामिल हैं।

bnmusamvadhttps://bnmusamvad.com
B. N. Mandal University, Madhepura, Bihar, India

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

20,692FansLike
3,431FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles