BNMU दीक्षांत समारोह में मिलेगा स्वर्ण पदक

*दीक्षांत समारोह में मिलेगा स्वर्ण पदक*

आगामी तीन अगस्त को निर्धारित भूपेन्द्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय, मधेपुरा के चतुर्थ दीक्षांत समारोह में राज्यपाल सह कुलाधिपति फागू चौहान द्वारा विभिन्न विषयों में सर्वोच्च अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को स्वर्ण पदक प्रदान किया जाएगा। जनसंपर्क पदाधिकारी डॉ. सुधांशु शेखर ने परीक्षा नियंत्रक प्रो. आर. पी. राजेश के हवाले से बताया कि दीक्षांत समारोह में प्रमाण पत्र के लिए शनिवार तक कुल 441 आवेदन प्राप्त हुए हैं। इनमें पीएचडी के 63 और स्नातकोत्तर के 379 आवेदन शामिल हैं।

*मिलेगा स्वर्ण पदक*
उन्होंने बताया कि सभी विषयों के सर्वोच्च अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थी को स्वर्ण पदक दिया जाएगा। लेकिन यह पदक तभी दिया जाएगा, जब विद्यार्थियों को कम-से-कम साठ प्रतिशत अंक प्राप्त होगा। पूर्व में यह निर्णय लिया गया था कि जिस विषय में दस से कम विद्यार्थी होंगे, उस विषय में स्वर्ण पदक नहीं दिया जाएगा। पूर्व के इस निर्णय को बदलते हुए सभी विषयों में स्वर्ण पदक देने का निर्णय लिया गया।

उन्होंने बताया कि वर्ष 2021 के लिए एकमात्र स्वर्ण पदक शिक्षा संकायान्तर्गत एमएड के डेजी कुमारी को मिलेगा। वर्ष 2020 के लिए एमएड के यशवंत कुमार के अलावा एमएलआईएस के राहुल कुमार एवं एमडी/एमएस के पूजा मिश्रा को स्वर्ण पदक मिलेगा।

उन्होंने बताया कि वर्ष 2019 के लिए शिक्षा संकायान्तर्गत एमएड के प्रदीप कुमार मेहता, एमएलआईएस के राहुल कुमार एवं एमडी/एमएस के पूजा मिश्रा और वाणिज्य संकायान्तर्गत वाणिज्य में प्रभु कुमार को स्वर्ण पदक मिलेगा। इस वर्ष विज्ञान संकायान्तर्गत भौतिकी में शिवम् कृष्णा, रसायन शास्त्र में नेहा कुमारी, वनस्पति विज्ञान में अविनाश कुमार, जंतु विज्ञान में अंशु आनंद एवं गणित में श्रुति अग्रवाल को स्वर्ण पदक मिलेगा। इसमें सामाजिक विज्ञान संकायान्तर्गत भूगोल में अनीशा, गृह विज्ञान में कुमारी रेणुका रंजना, मनोविज्ञान में निशा कुमारी, समाजशास्त्र में प्रज्ञा गौतम, राजनीति विज्ञान में जयदीप मोनु, इतिहास में सुमित कुमार एवं अर्थशास्त्र में जूली कुमारी के नाम भी शामिल हैं। मानविकी संकायान्तर्गत दर्शनशास्त्र में अर्चना कुमारी, हिंदी में राधा कुमारी, अंग्रेजी में श्वेता कुमारी, उर्दू में सबा परवीन, मैथिली में संजय कुमार एवं संस्कृत में अर्चिता रानी को स्वर्ण पदक मिलेगा।

उन्होंने बताया कि वर्ष 2018 के लिए वाणिज्य संकायान्तर्गत वाणिज्य में आर्यमन स्मित परयातियार को स्वर्ण पदक मिलेगा। इसमें विज्ञान संकायान्तर्गत भौतिकी की मणिकांत कुमार, रसायन शास्त्र श्यामा अहद, वनस्पति विज्ञान सपना कुमारी, जंतु शिखा रानी, गणित बिनित कुमार को स्वर्ण पदक मिलेगा। इस वर्ष सामाजिक विज्ञान संकायान्तर्गत भूगोल में मो. शाहनवाज, गृह विज्ञान में नेहा कुमारी, मनोविज्ञान में कविता कुमारी, समाजशास्त्र में रूचिका कुमारी, राजनीति विज्ञान में मुकेश कुमार, इतिहास में अवधेश कुमार अमन, अर्थशास्त्र में अनामिका कुमारी के नाम स्वर्ण पदक प्राप्तकर्ताओं में शामिल हैं। स्वर्ण पदक की सूची में मानविकी संकायान्तर्गत दर्शनशास्त्र में जाह्नवी, हिंदी में सुजाता, अंग्रेजी में मीनाक्षी आनंद, उर्दू में मो. इम्तियाज आलम, मैथिली में मुकेश कुमार राय, संस्कृत में प्रीति कुमारी, बंगला में आलमगीर आलम के नाम भी शामिल हैं।

*सोमवार तक होगा आवेदन*
उन्होंने बताया कि दीक्षांत समारोह को लेकर विद्यार्थियों में काफी उत्साह है। विद्यार्थियों द्वारा विश्वविद्यालय में लगातार आवेदन प्रपत्र जमा किया जा रहा है। 18 जुलाई (सोमवार) तक आवेदन प्रपत्र स्वीकार किया जाएगा। समस्त शैक्षणिक प्रमाण पत्रों की छायाप्रति के साथ संबंधित विभाग/ महाविद्यालय से अग्रसारित कराकर निर्धारित शुल्क के साथ शुल्क काउंटर पर जमा कराया जा सकता है। एमए, एमएससी एवं एमकॉम हेतु 12 सौ, एमएलआईएस एवं एमएड हेतु 15 सौ, पीएचडी हेतु दो हजार तथा एमएस एवं एमडी हेतु चार हजार शुल्क निर्धारित किया गया है।

*स्नातकोत्तर एवं पीएचडी वालों को मिलेगी उपाधि*
उन्होंने बताया कि चतुर्थ दीक्षांत समारोह में पीएच. डी. एवं स्नातकोत्तर के विद्यार्थी भाग लेंगे। इस निमित्त 14 दिसंबर, 2019 से अद्यतन पीएच. डी. डिग्री और स्नातकोत्तर 2016-18 एवं 2017-19, एमडी एवं एमएस 2020 (i), एमएलआईएस 2019-20, एमएड 2017-19, 2018-20 एवं
2019-21 के विद्यार्थियों का प्रमाण पत्र बन रहा है।

*दिया जाएगा गार्ड आफ आनर*

उन्होंने बताया कि राज्यपाल सह कुलाधिपति के सम्मान में स्वागत एवं सम्मान में जगह-जगह तोरणद्वार लगाया जाएगा। उन्हें हेलीपैड एवं विश्वविद्यालय परिसर में गार्ड आफ आनर दिया जाएगा। मंच पर कुलपति उन्हें अंगवस्त्रम्, पुष्पगुच्छ एवं स्मृतिचिह्न देकर सम्मानित करेंगे।

*निकलेगी शोभायात्रा*
दीक्षांत समारोह की विद्वत शोभा यात्रा में राज्यपाल सह कुलाधिपति सहित अन्य गणमान्य अतिथि एवं प्रतिभागी विशेष दीक्षांत परिधान में शामिल होंगे। इसमें कुलसचिव, संकायाध्यक्ष, परीक्षा नियंत्रक, प्रति कुलपति एवं कुलपति राज्यपाल सह कुलाधिपति की अगुवानी करेंगे। अतिथियों एवं सभी प्रतिभागियों को विश्वविद्यालय द्वारा पीला मालविया पगड़ी, लाल बॉडर वाला विश्वविद्यालय के मोनोग्राम अंकित पीला अंगवस्त्रम् उपलब्ध कराया जाएगा। छात्रों को खादी कपड़े में सफेद (उजला) कुर्ता एवं पजामा या उजली धोती एवं उजला कुर्ता स्वयं बनाना है। छात्राओं के लिए खादी सलवार (उजला) लेमन येलो कुर्ता या खादी की साड़ी लाल बॉडर के साथ, लाल ब्लॉज स्वयं बनवाना है।

*साफ-सफाई एवं सौंदर्यीकरण पर विशेष ध्यान*
राज्यपाल के आगमन के निमित्त साफ- सफाई एवं सौंदर्यीकरण पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। पूरे परिसर को दुल्हन की तरह सजाने की योजना है। विश्वविद्यालय अतिथिगृह सहित सभी प्रमुख भवनों के रंग-रोगन का कार्य जारी है। मुख्य द्वार पर लाइट लगाने का प्रस्ताव है। दीक्षा मंच पर मधुबनी पेंटिंग लगाने और मंच को खुशबूदार फूलों से सजाने का निर्णय लिया गया है।

*कुलपति स्वयं कर रहे हैं निगरानी*
कुलपति डॉ. आर. के. पी. रमण स्वयं समारोह की मोनिटरिंग कर रहे हैं। उन्होंने सभी समितियों के संयोजकों, सचिवों एवं सभी सदस्यों को यह निदेशित किया है कि सभी कार्य ससमय पूरा किया जाए। समारोह को यादगार एवं शानदार बनाया जाए और इसमें कोई कमी नहीं रहने दिया जाए।

bnmusamvadhttps://bnmusamvad.com
B. N. Mandal University, Madhepura, Bihar, India

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

20,692FansLike
3,431FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles