BNMU SAMVAD

केंद्रीय विशवविद्यालय दक्षिण बिहार के स्नातकोत्तर मनोविज्ञान विभागाध्यक्ष ने दी राष्ट्रीय कार्यशाला में रिसोर्स पर्सन बनने की सहमति

केंद्रीय विशवविद्यालय दक्षिण बिहार के स्नातकोत्तर मनोविज्ञान विभाग के प्रोफेसर एवम् विभागाध्यक्ष प्रोफेसर डॉ धर्मेन्द्र कुमार सिंह ने स्नातकोत्तर मनोविज्ञान विभाग बीएनएमयू में 20 से 25 मई तक आयोजित होने वाली राष्ट्रीय कार्यशाला जो शोध कौशल विकास पर आधारित है में रिसोर्स पर्सन बनने पर अपनी सहमति प्रदान कर दी है। प्रोफेसर सिंह शोध में नैतिकता पर अपना व्याख्यान देंगे और सभगी शोधार्थियों को प्रशिक्षित करेंगे। प्रोफेसर सिंह पूर्व में नीलांबर पीताम्बर विश्वविद्यालय झारखंड में प्राध्यापक रह चुके हैं। नैदानिक मनोविज्ञान के क्षेत्र में इनकी अहम भूमिका है। यह अपने शोध कार्य से देश एवम् विदेशों में भी जाने जाते हैं। इन्होंने केन्द्रीय विश्वविद्यालय दक्षिण बिहार में मनोविज्ञान विभाग के स्थापना में अपनी विशेष भूमिका निभाई है। इन्हें कई सरकारी एवम् अर्धसरकारी संस्थाओं ने कई प्रकार के अवॉर्ड से सम्मानित किया है। भूपेंद्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय के लिए यह गर्व की बात है कि कार्यशाला में सम्मिलित होने के लिए इनकी सहमति प्राप्त हुई है। कार्यशाला के निदेशक प्रो डॉ एम आई रहमान, आयोजन सचिव डॉ आनंद कुमार सिंह, कोषाध्यक्ष डा सिकंदर कुमार एवम् आयोजक सदस्यों ने हर्ष व्यक्त किया है।