BNMU SAMVAD

BNMU आत्मकथन —————— लगभग 6 वर्ष 9 माह तक विश्वविद्यालय प्रशासन में विभिन्न दायित्वों का निर्वह् करने के बाद मैं 14 मई, 2024 के अपराह्न से पुनः अपने पैतृक महाविद्यालय (ठाकुर प्रसाद महाविद्यालय, मधेपुरा) की पूर्णकालिक सेवा में आ गया हूँ।

*आत्मकथन

——————
लगभग 6 वर्ष 9 माह तक विश्वविद्यालय प्रशासन में विभिन्न दायित्वों का निर्वह् करने के बाद मैं 14 मई, 2024 के अपराह्न से पुनः अपने पैतृक महाविद्यालय (ठाकुर प्रसाद महाविद्यालय, मधेपुरा) की पूर्णकालिक सेवा में आ गया हूँ।

इसके लिए मैं माननीय कुलपति प्रोफेसर विमलेंदु शेखर झा साहेब एवं कुलसचिव प्रोफेसर मिहिर कुमार ठाकुर सर के प्रति हार्दिक आभार व्यक्त करता हूँ।

मेरे बाद उपकुलसचिव (स्थापना) के रूप में डॉ. शंकर कुमार मिश्र और विभागाध्यक्ष (दर्शनशास्त्र) के रूप में डॉ. डी. पी. मिश्र की नियुक्ति की गई है। मैं दोनों नवनियुक्त पदाधिकारियों को बहुत-बहुत बधाई देता हूँ।

स्थापना शाखा के कार्यालय प्रभारी अनुजवत भाई श्री अमित कुमार एवं भाई श्री विनय कुमार सिंह और दर्शनशास्त्र विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर द्वय श्री विनय कुमार एवं डॉ. कुमार ऋषभ तथा कर्मी द्वय श्री सुरेन्द्र कुमार सुमन एवं श्री वरुण कुमार को बहुत-बहुत धन्यवाद। आप सबों से मुझे जो सहयोग एवं सम्मान मिला है, उसे मैं हमेशा याद रखूंगा।

अपनी जिम्मेदारियों को निभाने के क्रम में किसी कारणवश जिनकी अपेक्षाएं पूरी नहीं कर पाया अथवा जाने-अनजाने जिनका भी दिल दुखाया उन सबों से क्षमा चाहता हूँ।

#बीएनएमयू
#सुधांशु_शेखर