Jai Hind। नानी के हाथ का गोदना

0
128

नानी के हाथ का गोदना
⛚⛚⛚⛚⛚⛚⛚⛚⛚⛚⛚⛚⛚⛚⛚⛚⛚⛚⛚

नानी के हाथ का गोदना बचपन से ही मेरे लिए आकर्षण एवं कौतुहल का विषय रहा है। आज एक बार फिर मेरी नजर गोदना पर पड़ी।

नानी के दाएं हाथ में ‘सिताराम’ (सीताराम) और बाएं हाथ में ‘जय हिन्द’ लिखा है।

नानी ने बताया कि गोदना वाला बाएं हाथ में नाना जी का नाम लिखवाने बोल रहा था। लेकिन नानी ने ‘जय हिन्द’ लिखना पसंद किया; क्योंकि नानी को पता था कि स्वतंत्रता सेनानी नाना जी ‘अपने नाम’ से अधिक ‘जय हिन्द’ देखकर प्रसन्न होंगे।

इससे हम ‘जय हिन्द’ की महत्ता एवं लोकप्रियता का सहज ही अनुमान लगा सकते हैं।

नोट : हमारी हरएक छोटी-छोटी बातें हमारी जीवन-दृष्टि को प्रतिबिम्बित करती हैं और उसका समाज एवं राष्ट्र पर भी गहरा प्रभाव पड़ता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here