Sunday, July 14bnmusamvad@gmail.com, 9934629245

Bihar बिाहार के राज्यपाल श्री राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने विश्व आयुर्वेद परिषद, बिहार इकाई द्वारा बोधगया में “नेत्र रोगों की आयुर्वेदिक चिकित्सा” विषय पर आयोजित पाटलिपुत्र राष्ट्रीय संभाषा-2024 का उद्घाटन किया।

बिाहार के राज्यपाल श्री राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने विश्व आयुर्वेद परिषद, बिहार इकाई द्वारा बोधगया में “नेत्र रोगों की आयुर्वेदिक चिकित्सा” विषय पर आयोजित पाटलिपुत्र राष्ट्रीय संभाषा-2024 का उद्घाटन किया।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि आयुर्वेद हमारी मूल चिकित्सा पद्धति है और यह शरीर के साथ-साथ मन का भी उपचार करती है। हमारी जीवन पद्धति आयुर्वेद से जुड़ी हुई है।

उन्होंने कहा कि वर्ष 2047 तक भारत को विकसित राष्ट्र बनाने में हर क्षेत्र की सहभागिता आवश्यक है और इसमें आयुर्वेद को भी महत्वपूर्ण भूमिका निभानी चाहिए।