Sunday, July 14bnmusamvad@gmail.com, 9934629245

ABVP अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् मधेपुरा नगर इकाई ने बीएनएमयू के पूर्व कुलपति प्रो. (डॉ.) राम बदन यादव की आत्मा की शांति हेतु ठाकुर प्रसाद महाविद्यालय में एक श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया।

श्रद्धांजलि सभा का आयोजन

—-

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् मधेपुरा नगर इकाई ने बीएनएमयू के पूर्व कुलपति प्रो. (डॉ.) राम बदन यादव की आत्मा की शांति हेतु ठाकुर प्रसाद महाविद्यालय में एक श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया।

 

इस अवसर पर प्रधानाचार्य प्रो. कैलाश प्रसाद यादव ने कहा कि प्रो. रामबदन यादव एक अत्यंत ही ईमानदार प्रशासक थे।‌ उनके विचार एवं कार्य हमारे लिए एक आदर्श की तरह है।

 

परिषद् के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष सह विश्वविद्यालय प्राचीन इतिहास विभागाध्यक्ष प्रो. ललन प्रसाद अद्री ने कहा कि प्रो. रामबदन यादव रसायनशास्त्र के बड़े विद्वान थे। वे ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के रसायन विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष एवं विज्ञान संकायाध्यक्ष रहे थे। तदुपरांत उन्होंने 17 अक्टूबर, 1992 से 15 दिसंबर, 1994 तक बीएनएमयू के तीसरे कुलपति के रूप में कार्य किया।

 

परिषद् के नगर अध्यक्ष सह विश्वविद्यालय दर्शनशास्त्र विभाग के प्रभारी विभागाध्यक्ष डॉ. सुधांशु शेखर ने कहा कि प्रो. रामबदन यादव विज्ञान के विद्यार्थी एवं शिक्षक थे। इसके बावजूद उनका धर्म, दर्शन एवं आध्यात्म से गहरा लगाव था।

 

परिषद् के नगर उपाध्यक्ष सह मैथिली विभागाध्यक्ष डॉ. उपेन्द्र प्रसाद यादव ने कहा कि प्रो. रामबदन यादव के निधन से मिथिला एवं कोसी क्षेत्र ने एक बड़े शिक्षाविद् को खो दिया है। इससे शैक्षणिक जगत में जो शून्यता आई है, उसे लंबे समय तक भरना मुश्किल है।

 

सीनेटर रंजन यादव ने कहा कि प्रो. रामबदन यादव आज सशरीर हमारे बीच नहीं हैं, लेकिन शिक्षा के क्षेत्र में उनका योगदान हमेशा अविस्मरणीय रहेगा।

 

कार्यक्रम के अंत में सबों ने दो मिनट का मौन रखकर प्रो. रामबदन यादव की आत्मा की शांति हेतु ईश्वर से प्रार्थना की।

‌इस अवसर पर जिला प्रमुख दिलीप कुमार दिल, विभाग संयोजक सौरव कुमार यादव,जिला संयोजक नवनीत सम्राट, नगर मंत्री अंकित आनंद, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अमोद आनंद, नीतीश यादव, जिला संगठन मंत्री सुमित कुमार यादव, मौसम कुमार, अभिषेक, अजय, सुधांशु, देवाशीष, शुभम, शोधार्थी सौरभ कुमार चौहान आदि उपस्थित थे।